यह मेरे जीवन का सबसे बेहतरीन हफ्ता रहा, किसी से तुलना ठीक नहीं : पीवी सिंधु

रियो डी जिनेरियो: भारतीय बैडमिंटन के इतिहास में अब तक की सबसे बड़ी कामयाबी हासिल करने के बाद हैदराबादी बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु ने एनडीटीवी से खास बातचीत में अपने खेल के कई अहम पहलुओं पर रोशनी डाली. उन्होंने कहा कि इस वक्त उनकी खुशी का कोई ठिकाना नहीं है. वह यह भी कहती हैं कि इस वक्त किसी और खिलाड़ी से उनकी तुलना करने का सही समय नहीं है.

क्या आप ओलिंपिक सिल्वर मेडल को अब तक की अपनी सबसे बड़ी कामयाबी मानती हैं?
सिंधु : ओलिंपिक का पदक जीतना मेरा सपना था, लेकिन मैं कभी यह सोचकर नहीं आयी थी कि यहां तक पहुंचुंगी. यह मेरे जीवन का बेहतरीन हफ्ता साबित हुआ है. मैं अपने खेल और प्रदर्शन से बेहद खुश हूं. मैं गोल्ड मेडल से चूक गई, फिर भी खुशी है कि अपने सिल्वर मेडल के जरिए भारतीय खेल प्रेमियों के चेहरों पर मुस्कान ला पाई.